• Talk to Astrologer
  • Sign In / Sign Up

Sawan Ke Upay: सावन महीने में रोज करें ये 7 सरल उपाय, दूर होंगे कष्ट, घर में आएगी खुशहाली


Sawan Ke Upay: सावन महीने में रोज करें ये 7 सरल उपाय, दूर होंगे कष्ट, घर में आएगी खुशहाली

सावन का महीना भगवान शिव का प्रिये महीना माना  जाता है। हिन्दू पंचांग के अनुसार इस वर्ष सावन माह शुरू होगा 14 जुलाई 2022, गुरुवार से 11 अगस्त 2022, गुरुवार अर्थात सावन पूर्णिमा तक रहेगा।  इस महीने में रोज किये गए सरल उपायों से भी भगवान शिव अति शीघ्र प्रसन्न हो कर अपने भक्तों को मनोकामना पूर्ति का वरदान देते है। आइये जानते है सावन माह में रोज किये जाने वाले कुछ सरल उपाय। 

1. इस माह में भगवान शिव की कृपा प्राप्ति के लिए नित्य नन्दी गाये को चारा खिलाये। अगर नन्दी गए ना मिले तो जो भी गए मिले उसकी सेवा करें और हरी घास खिलाये। अगर रोज करना सम्भव ना हो तो आप गोशाला में पुरे महीने का जमा करवा सकते है। 

2. समस्त मनोकामना पूर्ति हेतु सावन माह में भगवान शिव का जल से अभिषेक करना सर्वश्रेष्ठ उपाय माना गया है। सुबह स्नान आदि नित्य कर्म से निवृत भगवन शिव के मंदिर जाये भगवन शिव का गंगाजल मिले हुए जल से अभिषेक करें साथ ही सफेद चन्दन और सफ़ेद पुष्प समर्पित करें। फिर वही बैठकर रुद्राक्ष की माला से १०८ बार ॐ नमः शिवाय मन्त्र का जप करें भगवन से अपने कष्ट  की प्रार्थना करें। सावन माह में इस उपाय को करने से मनुष्य को अत्यंत शुभ फल की प्राप्ति होती है। 

3. अच्छे स्वास्थ और निरोगी काया की प्राप्ति के लिए सावन माह में प्रत्येक दिन गाये के कच्चे दूध में जल और काळा तिल मिला कर भगवान शिव का अभिषेक करें। फिर विधि पूर्वक पूजा अर्चना कर प्रशाद अर्पित करें और महा मृत्युंजय मंत्र का १०८ बार जप रुद्राक्ष की माला से करें। इससे बीमारियों का नाश होता है। 

 

ये भी जरूर पढ़े -

Savan Somvar Vrat 2022: सोमवार व्रत कब शुरू करें, पूजा विधि एवं उपाय 

चातुर्मास: 4 माह के लिए सो जाएंगे देव नहीं होंगे मांगलिक कार्य

शिवलिंग पर भूल से भी ये 5 चीजे ना चढ़ाये भोलेनाथ होते है नाराज

 

4. मानसिक तनाव और कलेश से मुक्ति पाने हेतु सावन माह के हर सोमवार मंदिर में भगवान शिव का अभिषेक और विधिवत पूजा करने के बाद चावल के खीर का भोग और ॐ नमः शिवाय मन्त्र का जप करे। जीवन में सुख शांति की वृद्धि होगी। 

5. धन समृद्धि की वृद्धि के लिए सावन माह रोज शिवलिंग पर एक मुट्ठी चावल अर्पित करें। परन्तु ध्यान रखें चवण टूटे हुए या रंगे हुए नहीं होने चाहिए। 

6. यदि पति पत्नी रोज भगवान शिव का पंचामृत से अभिषेक करें तो इससे वैवाहिक जीवन में मधुरता आती है और प्रेम बढ़ता है। 

7. पुरे सावन नियमित रूप से भगवन शिव को 11 या 21 विल्वपत्र चढ़ाने से धन लाभ होता है। परन्तु ध्यान रखे बेलपत्र कटे फटे ना हो। 

Shardita Navratri 2023: शारदीय नवरात्रि कब से शुरू, क

  Shardiya Navratri 2023: शारदीय नवरात्रि 2023 में 15 अक्टूबर, रविवार ...

Raksha Bandhan 2023: रक्षा बंधन कब है, तिथि एवं भद्

  Raksha Bandhan 2023: राखी का त्यौहार प्रत्येक वर्ष सावन माह के श...

Hartalika Teej Vrat 2023: हरतालिका तीज कब है, शुभ मुहू

  Hartalika Teej 2023: भाद्रपद माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि क...

Kamika Ekadashi 2023: कामिका एकादशी व्रत कब है ? तिथ

(Kaminka Ekadashi 2023)  हिन्दू पंचांग के अनुसार, चातु...

Guru Purnima 2023: गुरु पूर्णिमा कब है, तिथि, शुभ म

  Guru Purnima 2023: गुरु पूर्णिमा का पर्व हिन्दू पंचांग क...

Weekly Rashifal 26 November to 02 December 2023: Weekly Prediction

  Mesh Weekly Rashifal / Aries Weekly Prediction Auspicious: You may get new work in business. You can take ...

सुहागिन महिलाओं को किस दिन बाल धोना चा

  सुहागिन महिलाओं को किस दिन बाल धोना चाहिए और वर्जित दिन...